BestSellers

विधि :-  सिद्धासन, पद्मासन या वज्रासन में बैठकर साँसों को बाहर छोड़ने की क्रिया करें। साँसों को बाहर छोड़ने या फेंकते समय पेट को अंदर की ओर धक्का देना है। ध्यान रखें कि श्वास लेना नहीं है क्योंकि उक्त क्रिया में श्वास स्वत: ही अंदर चली जाती है।

लाभ : –  यह प्राणायाम आपके चेहरे की झुर्रियाँ और आँखों के नीचे का कालापन हटाकर चेहरे की चमक बढ़ाता है। 

      • दाँतों और बालों के सभी प्रकार के रोग दूर हो जाते हैं। 
      • शरीर की चरबी कम होती है। कब्ज, गैस, एसिडिटी की समस्या में लाभदायक है।
      • शरीर और मन के सभी प्रकार के नकारात्मक तत्व और विचार मिट जाते हैं।
      • थायराइड को कम करता है।
      • पेट का मोटापा कम करता है।
      • कब्ज खत्म करने में मदद करता है। । पाचन तंत्र को बढ़ाता है।
      • स्किन एलर्जी और संक्रमण का इलाज करता है।

कपालभाती प्राणायाम(Kapalbhati Pranayama)