होली की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ

होली की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ

, 🙏🌹जय श्री राम 🌹 🙏
सभी को होलिका दहन और होली की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ|
भक्त भगवान प्रह्लाद की कृपा से आपके सभी पाप, रोग, दोष व अवगुण होलिका की ज्वाला में भस्म हो जाएँ!
होली के रंग बिरंगे रंगों की तरह आपका जीवन भी रंगीन हो जाए, प्रभु से यही मनोकामना
🙏 जय श्री राम 🙏

——————————————————————————————————————————-

Bright colors, water balloons, tasty gujiyas and melodious songs are the ingredients for a perfect Holi.

Wish you and your family a very happy and colorful Holi.

——————————————————————————————————————————-

होली के पावन पर्व पर आपको और आपके परिवार को होली की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं

——————————————————————————————————————————-

प्यार के रंग से भरो पिचकारी,
स्नेह से रंग दो दुनिया सारी,
ये दिन ना जाने दोस्ती और दुश्मनी
मुबारक हो आपको होली का त्योहार

——————————————————————————————————————————-

Fill the color with love,
Color the world with affection,
This day does not know friendship and enmity
Happy Holi festival to you

——————————————————————————————————————————-

वह मनहूस रात

खुशी से नम हो गई आंखें

बुरी करनी को मिला करारा जवाब,

खबर कुछ ऐसी आई आज सुबह

कि शिकारी खुद हो गए शिकार|

 

उस मनहूस रात के साए में

किया था जहां पाप तुमने,

देखो नियति के भी खेल निराले

उसी जगह देखा तुम्हारा अंत सबने|

 

लाओ कोई कानून ऐसा

करो कुछ ऐसा उपाय,

रूह कांप जाए उस दरिंदे की

जिसके मन में भी यह ख्याल आए|

 

कोशिश कर एक ऐसा समाज बनाएं

जिसमें कोई भी बेटी ना घबराए

दुआ है, जब भी सुबह अखबार खोलूं

कभी बलात्कार की खबर न आए

कभी बलात्कार की खबर न आए

 

~Copied

Valentine Day Shayari

#करनी है #खुदा से #गुजारिश,
तेरी दोस्ती के सिवा कोई #बंदगी न मिले…
हर #जनम में मिले #दोस्त तेरे जैसा,
या #फिर कभी #जिंदगी न मिले.!!

 

 

🌹बड़ा मुश्किल है जज़्बातो को पन्नों पर उतारना……..
हर दर्द महसूस करना पड़ता है लिखने से पहले……..💞💞

 

 

यूँ ही रूठे रहना तुम हम से ,
कसम से ,
तुम रूठे हुये भी ,अच्छे लगते हो….!!!

 

 

मुझे नही आती उड़ती पतंगों सी चालाकियां…
गले मिल कर गला काटू वो मांझा नहीं हू में…

 

 

 

Valentine Day Sale 

यह तो प्रेम की बात है उधो, बंदगी तेरे बस की नहीं है

shri krishna

यह तो प्रेम की बात है उधो,
बंदगी तेरे बस की नहीं है।
यहाँ सर देके होते सौदे,
आशकी इतनी सस्ती नहीं है॥

प्रेम वालों ने कब वक्त पूछा,
उनकी पूजा में सुन ले ए उधो।
यहाँ दम दम में होती है पूजा,
सर झुकाने की फुर्सत नहीं है॥

जो असल में हैं मस्ती में डूबे,
उन्हें क्या परवाह ज़िन्दगी की।
जो उतरती है चढ़ती है मस्ती,
वो हकीकत में मस्ती नहीं है॥

जिसकी नजरो में है श्याम प्यारे,
वो तो रहते हैं जग से न्यारे।
जिसकी नज़रों में मोहन समाये,
वो नज़र फिर तरसती नहीं है॥