हम जो हैं वही बने रहकर वह नहीं बन सकते जो कि हम बनना चाहते हैं।‐ मैक्स डेप्री